Monday, 30 November 2015

गर्भवती महिला के पाँचवे महीने की सोनोग्राफी -क्यों है इतनी आवश्यक

गर्भवती महिला के पाँचवे महीने की सोनोग्राफी -क्यों है इतनी आवश्यक 

प्रश्न १)
गर्भवती महिला को पाँचवे महीने की सोनोग्राफी करना क्यों आवश्यक है ?
उत्तर 
गर्भ के पाँचवे महीने यानि कि 18 -19 हफ़्तों तक शिशु के अंगों का बनना लगभग पूरा हो जाता है।
                                         
 तब एक अनोमली (Anomaly -scan ) सोनोग्राफी की सलाह दी जाती है। 
-सोनोग्राफी के डॉक्टर शिशु को सिर से लेकर पाँव तक अच्छी तरह से जाँचते हैं और एक एक ऑर्गन की detail में study करते हैं। 

-सोनोग्राफी की मशीन पर आप खुद भी अपने होने वाले बच्चे को देख सकती हैं। 
-यह सुखमय अनुभव आपको हमेशा याद रहेगा 


प्रश्न 2 )
क्या anomaly scan के अलग अलग प्रकार हैं ?
उत्तर 
आजकल anomaly scan करने के लिए विशेष मशीन भी उपलब्ध हैं। 
-इन मशीन पर हुई सोनोग्राफी को  3 -D और 4 D स्कैन के नाम से जाना जाता है। आप चाहें तो अपने डॉक्टर की सलाह से इस सुविधा का लाभ उठा सकती हैं 

लेखिका 
डॉ हिमानी गुप्ता
स्त्री रोग तज्ञ
फ़ोन -07506027299

इ मेल - mygynaecworld@gmail.com
वेबसाइट - www.mygynaecworld.com
मदर n केयर क्लिनिक
F 44 / 30 , श्री रो हाउस
सेक्टर - 12 , शिवाजी चौक के पास
खारघर , नवी मुंबई (पास - पनवेल -कामोठे ,कलंबोली,बेलापुर ,तलोजा ,रोड पाली  )

                                      

No comments:

Post a Comment